What is Networking in Hindi – PAN,WAN,MAN,LAN,SAN,CAN,GAN,WAN

Hello दोस्तों आजकल हम पूरी तरह internet और computer या Smartphones पर निर्भर है। हमे कोई भी काम कारना हो वो हम इन्ही चीजों की मदद से आसानी से घर बैठे कर लेते है।

अब सबसे महत्वपूर्ण बात यह आती है कि आखिर घर बैठे हम इन कामों को कैसे कर लेते है। आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम यही जानेंगे कि आखिर हम घर बैठे इन सब कामों को कैसे कर पाते है या किसी से कोई बात करनी हो चाहे वो कितनी भी डोर ही क्यों न हो हम यह सब बिना किसी problem के कर पाते है।

आज के इस article मे हम जानेंगे कि आखिर networking कैसे काम करती है? और networking के अलग अलग प्रकार कौन कौन से होते है? अगर आप networking के बारे मे विस्तार से जानना चाहते है तो आप बिल्कुल सही article पढ़ रहे है।

तो चलिए जानते है कि आखिर networking क्या होती है?और इसके अलग अलग प्रकार कौन कौन से होते है?

Network के सभी प्रकारों के बारे में जानने से पहले हम यह जानेंगे कि आखिर network क्या होता है?

 

Network क्या है?

  • जब दो या दो से अधिक computers को किसी माध्यम के द्वारा आपस मे जोड़ा जाता है और information को share किया जाता है इसी technic को network कहते है।
  • यह connection wireless या wired भी हो सकता है। wired medium में हम twisted pair cable, coaxial cable और fiber optical cable का use करते है।
  • Wireless medium में हम radio waves, Bluetooth जैसी technic का use करते है।
  • Computing में network का मतलब दो या दो से अधिक devices का group होता है जिसके माध्यम से हम communication करते है।
  • networking का हमारे सामने सबसे अच्छा example internet है जहां लाखों लोग आपस मे connected है और data sharing कर रहे है।

 

अब हम network के बारे मे जन चुके है अब हम Network के सभी Components के बारे मे जानेंगे। network के निम्नलिखित components होते है :-

 

Components of Network in Hindi

  • PAN ( Personal Area Network)
  • WAN (Wide Area Network)
  • MAN (Metropolitan Area Network)
  • LAN (Local Area Network)
  • SAN (Storage Area Network)
  • CAN (Campus Area Network)
  • GAN (Global Area Network)
  • WAN (Wireless Local Area network) या Wi-Fi

Also Read:- What is Network Hub in Hindi – नेटवर्क हब की पूरी जानकारी…

 

PAN का पूरा नाम क्या है?

इसका पूरा नाम personal area network है।

 

PAN का उपयोग कहाँ कहाँ होता है?

  • जैसा कि नाम से ही साफ है कि यह एक short range network है।
  • इसकी सीमा किसी घर के अंदर तक ही रहती है।
  • इसके साथ हमारे tablet, telephones, और कुछ devices जोड़ सकते है।

 

LAN का पूरा नाम क्या है?

इसका पूरा नाम local area network है।

 

LAN का उपयोग कहाँ कहाँ होता है?

  • इस network का उसे दो या दो से अधिक computers को जोड़ने के लिए किया जाता है।
    जैसा कि local area network के नाम से ही साफ है कि यह किसी local area में काम करने वाला natwork है जैसे:- college, school etc.
  • इस network system को बनाने के लिए ज्यादा hardware की जरूरत नही पड़ती है यह केवल 2 computers से भी बनाया जा सकता है और हम चाहे तो LAN networking के माध्यम से 1000 computers को भी जोड़ सकता है।

 

Local area network(LAN) की विशेषताएँ:-
1:- इसमे data speed अधिक होती है।
2:- इसमे data सुरक्षित रहता है।
3:- इसमे data को व्यवस्थित करने आसान होता है।
4:- इसकी range एक fix area में होती है।
5:- इसमे network को आसानी से बनाया जा सकता है।

 

MAN का पूरा नाम क्या है?

इसका पूरा नाम metropolitan area network है।

 

MAN का उपयोग कहाँ कहाँ होता है? 

  • यह एक पूरे शहर को जोड़ने वाला नेटवर्क है।
  • इसकी range 10km से लेकर 100km तक होती है।
  • सारे local area network को आपस मे जोड़कर बेहतर बनाने के लिए MAN का ही use किया जाता है।

 

MAN की विशेषताएँ:-
1:- इसका use एक बड़े geographical area में होता है।
2:- इसकी ownership public या private होती है।

 

WAN का पूरा नाम क्या है?

इसका पूरा नाम wide area network है।

 

इसका उपयोग कहाँ कहाँ होता है?

  • इस network का उपयोग बहुत बड़े क्षेत्र में किया जाता है यह सिर्फ एक क्षेत्र या शहर तक ही सीमित नही है बल्कि यह पूरी दुनिया को एक साथ जोड़ता है।
  • इसका सबसे अच्छा example internet है।
  • इसका use local area network और अन्य networks को एक साथ जोड़ने के लिए किया जाता है।
  • इसके माध्यम से एक user दूर किसी दूसरी जगह पर बैठे user के साथ communicate कर सकता है।
  • Large corporate network, banking network, airline reservation जैसे networks इसके अंतर्गत आते है।
  • यह नेटवर्क महंगा है क्योंकि इसमें sonnet type की technology का use होता है।

 

WAN की विशेषताएँ:-

1:- इससे दो देशों के network को आपस मे connect करते है।
2:- इसमे data transmission speed बहुत slow है।

 

SAN का पूरा नाम क्या है?
इसका का पूरा नाम Storage area network है।

 

SAN का उपयोग कहाँ कहाँ होता है?

यह एक high speed network होता है जो storage device को server से connect करता है।

 

 

CAN का पूरा नाम क्या है?
इसका पूरा नाम campus area network है।

 

CAN का उपयोग कहाँ कहाँ होता है? 

  • यह network किसी University, school जैसी जगहों पर use किया जाता है।
  • अगर हम दो local area networks को आपस मे connect कर दे तो यह campus area network का काम करते है।

 

GAN का पूरा नाम क्या है?
इसका पूरा नाम Global area network है।

Also Read:- What is Bridge in Computer Networking in Hindi – नेटवर्क ब्रिज क्या होता है?..

 

GAN का उपयोग कहाँ कहाँ होता है? 

  • इसका use wireless LAN satellite coverage area को support करने के लिए किया जाता है।
  • यह बड़े area को cover करता है। यह Wide area networks को आपस मे connect करके बनाया जाता है।

 

WLAN का पूरा नाम क्या है?
इसका पूरा नाम wireless local area network है।

 

WLAN का उपयोग कहाँ कहाँ होता है?

  • इस network को Wi-Fi network भी कहते है।
  • यह network बिना किसी wired connection संवाद करने के काम आता है।
  • यह एक तरह का local area network है जो radio waves की मदद से network और internet तक पहुचने की युक्ति है।

 

WLAN की विशेषताएँ:-
1:- इसका set up करना आसान होता है।
2:- इसकी speed बहुत अधिक होती है।
3:- यह बहुत तरह के उपकरणों को चलाने में हमारी मदद करता है।

 

आज के इस article के माध्यम से हमने Network के बारे और उसके सभी types के बारे मे विस्तार से जाना। आशा है कि यह article आपके लिए helpful रहा होगा। अगर आपको यह article पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर share कीजिए।

आप हमे comment के माध्यम से सुझाव दे सकते है। आप हमे email के माध्यम से follow भी कर सकते है जिससे कि हमारी नई article की जानकारी आप तक सबसे पहले पहुचे आप email के माध्यम से हमसे question भी पूछ सकते है।

 

 

1 thought on “What is Networking in Hindi – PAN,WAN,MAN,LAN,SAN,CAN,GAN,WAN”

Leave a Comment