What is Artificial Intelligence in Hindi – आर्टफिशियल इन्टेलिजेन्स….

Hello  दोस्तों हम सभी जानते है आजकल Technology का Time है इसलिए हम आप को इस Website के माध्यम से आप को Technology से जुड़ी सारी जानकारी प्रदान करते है। आजकल Technology के क्षेत्र मे लगातार नए नए Development हो रहे है। Technology के इस दौर मे आजकल Computer Scientist के द्वारा Artificial Intelligence के Concept सबके सामने आ रहा है।

 

Artificial Intelligence का मकसद होता है ऐसे Robot बनाना जो इंसानों की तरह सोच सके और उसी की तरह काम कर सके। आप ने ऐसे Robot को South Indian Superstar रजनीकान्त की Movies Robot या Robot 2.0 मे जरूर देखेंगे होंगे यह Movie Artificial Intelligence का एक बहुत अच्छा उदाहरण है।

 

अगर आप Artificial Intelligence के बारे मे नहीं जानते है तो आपको Tension लेने की कोई बात नहीं है क्योंकि आज के इस Article के माध्यम से हम Artificial Intelligence के बारे मे जानने वाले है। आजकल Artificial Intelligence के क्षेत्र मे बहुत तेजी से Development हो रहा है। आपको अक्सर बहुत जगहों पर सुनने या देखने को भी मिलता है की आजकल इस तरह के Robots का इस्तेमाल हो रहा है। तो चलिए जानते है कि Artificial Intelligence क्या है?

 

What is Artificial Intelligence in Hindi (आर्टफिशल इन्टेलिजन्स क्या है)?

 

Artificial Intelligence को हम अक्सर A.I. भी कहते है। Computer Science मे Artificial Intelligence को हम Machine Intelligence के नाम से भी जानते है।  यानि कि जिस तरह Humans और Animals सोचते है ठीक उसी तरह से अगर Machine भी सोचने लगे तो उसे Machine Intelligence कहा जाता है।

 

Computer Science की इस शाखा मे Machines को इतना Develop किया जाता है जिससे कि वो humans की तरह सोच सके और काम कर सके। Speech Recognition, Problem Solving ये कुछ Artificial Intelligence के उदाहरण है।

Also Read:- What is .NET Framework Architecture in Hindi – .NET Framework kya hai?

 

History of Artificial Intelligence in Hindi

 

इसकी शुरुआत सन 1940 के दशक मे Programmable Digital Computer के Invention के साथ हुई जो कि Mathematical Reasoning पर आधारित थे। इस Device के Invention के बाद Scientists एक Electronic Brain के बारे मे Discussion किया और इसकी Possibilities को खोजा जाने लगा।

 

इसके बाद AI Research के लिए सन 1956 मे Dartmouth College मे एक Workshop को found किया गया। जिन Scientist ने इस Workshop मे भाग लिया वो उन दशकों मे AI Technology के लिए Leader बने। इस Workshop मे मे यह Predict किया गया कि यह Technology मानव की तरह ही Intelligent होगी।

 

इस Vision को पूरा करने के लिए बहुत पैसों की जरूरत थी लेकिन बाद मे इसमे बहुत समस्याएं आने लगी। बाद मे सन 1973 मे James Lighthill और Congress के लगातार बन रही दबाव के करण British Government और U. S. Government ने इस Project के लिए Funding बंद कर दी।

 

बाद मे 7 साल बाद इस Initiate को Japanese Government के द्वारा शुरू किया गया लेकिन उस समय भी संसाधनों की कमी के कारण यह Initiate भी वापस ले लिया गया। AI Technology मे 21 वीं सदी मे Interest और Investment मे बहुत बड़ी संख्या मे बढ़ोतरी हो रही है जब Machine Learning को Successfully बहुत सारे Problems मे apply कर लिया गया था।

 

 

Applications of Artificial Intelligence in Hindi

 

Artificial Intelligence का इस्तेमाल आजकल लगभग सभी क्षेत्रों मे किया जा रहा है। इसके कुछ Example आप भी आजकल देख सकते है जैसे Autonomous Vehicles ( Drones, Self Driving Cars), Medical के क्षेत्र मे, कला के क्षेत्र मे, Mathematical के क्षेत्र मे, Games खेलने के लिए, Search Engines ( Google ) मे, Online Assistant (Siri), Image recognition, Spam Filtering, Online Advertisement के लिए और भी बहुत क्षेत्रों मे आजकल इसका प्रयोग बहुत हो रहा है।

 

1:- Medical के क्षेत्र मे :- स्वास्थ्य के क्षेत्र मे AI Technology का बहुत ही ज्यादा उपयोग हो रहा है चाहे वो CT Scan या EKG हो। ऐसे बहुत सारे Equipment है जिनको अक्सर आपने Hospital मे देखा होगा जो कि अलग अलग कामों के लिए प्रयोग किए जाते है। इसका Medical के क्षेत्र मे इस्तेमाल बहुत पैसों की बचत और Patient की जन बचा रहा है।

 

Artificial Technology डॉक्टर की बहुत मदद करती है। Microsoft के द्वारा Cancer का सही इलाज ढूढने के लिए AI Technology को Develop किया जा रहा है। इसी प्रकार Medical के क्षेत्र मे बहुत सारे AI Technology के काम हो रहे है।

Also Read:- दुनिया के 20 सबसे अमीर आदमी की लिस्ट 2020 – Forbes Richest Person List

 

2:- Automotive के क्षेत्र मे :- AI Technology मे Advancement ने Automotive Industry मे बहुत बाद योगदान दिया है इस सबसे उदाहरण आप SelfDriving Vehicles को देख सकते है। इसकी शुरुआत की बात करे तो सन 2016 मे 30 Company ने Self-Driving के लिए AI पर काम करना शुरू इया था लेकिन कुछ ही Companies जैसे Tesla, Google और Apple ने ही AI को Self-Driving मे Improve किया।

 

3:- Finance and Economics के क्षेत्र मे :-  बहुत सारी Financial Institutions भी आजकल Artificial Neural Network का इस्तेमाल कर रही है। AI Banking की शुरुआत सन 1987 से United States मे Security Pacific National Bank के द्वारा Fraud से बचने के लिए किया गया था।

 

आजकल सभी Banks मे Artificial Intelligence का इस्तेमाल Passbook को Maintain करने, Stocks मे Invest करने के लिए और Operations करने के लिए किया जाता है। सन 2001 मे robots ने Humans को Financial Trading के Competition मे हरा दिया था। इसका इस्तेमाल आजकल बहुत सारी Corporations के द्वारा किया जा रहा है।

 

4:- Cybersecurity के क्षेत्र मे :- आजकल Cybersecurity मे AI का इस्तेमाल बहुत बड़े पैमाने पर किया जा रहा है। इसकी मदद Billion Dollar के Damage से बचा जा सकता है।

 

5:- Government के द्वारा:- Artificial Intelligence का इस्तेमाल Government के द्वारा Application के regulation मे किया जाता है। Artificial Intelligence मे Facial System का use होता है जिसका इस्तेमाल Mass surveillance के लिए  होता है। भारत मे सन 2019 मे AI आधारित Traffic Signal का इस्तेमाल किया गया था इसके तहत पूरे बंगलोर मे 387 Traffic Signals को लगाया गया था।

 

6:- Video Games मे :- इसका इस्तेमाल Video Games मे भी होता है।

 

7:- Law Related Professional मे

 

8:- Military के लिए

 

9:- Advertising के लिए

 

10:- ART के क्षेत्र मे

 

 

Philosophy of Artificial Intelligence in Hindi

 

अगर हम Artificial Intelligence की तुलना Human Being से करते है और एक ऐसी Machine बनाने की सोचते है जो कि मानव से भी अच्छी तरह से काम कर सके तो हमारे सामने बहुत सारे सवाल उठकर आते है।

 

  • क्या Artificial Technology से निर्मित Machines उन सभी काम को कर सकती है जिन कामों को Problems को मनुष्य Solve कर सकता है?

 

  • अब इसको इस हद तक Develop किया जाएगा जिससे कि यह Human Being से बेहतर का कर सके तो हो सकता है कि यह मानव जाति के लिए खतरा पैदा कर सकता है?

 

  • क्या जिस प्रकार Human beings की Mind Consciousness और मानसिक अवस्था होती है ये सभी गुण इसमे भी पाए जाएंगे?

Also Read:- What is Amplifier in Hindi – एम्पलीफायर (प्रवर्धक) क्या होता है पूरी जानकारी

 

इन सभी पहलुओं पर सभी वैज्ञानिकों की अपनी अपनी राय है। कुछ वैज्ञानिकों का मानना है कि Machines का इस हद तक Development मानव जाती के लिए बहुत हानिकारक साबित हो सकता है। ठीक इसी प्रकार के सभी अलग अलग Questions के बारे मे सभी वैज्ञानिकों की अपनी अलग अलग राय है।

 

Artificial Intelligence के लक्ष्य

 

जैसा कि हम जानते है कि 21वीं सदी मे Artificial Intelligence बहुत तेजी से Development कर रहा है। यह machines मानव द्वारा अपने कामों को आसान करने के लिए बनाई गई है हालांकि ये machine मानव द्वारा बनाई गई है लेकिन काम करने के मामले मे ये मशीन मानव से भी ज्यादा Efficient है। आजकल बहुत सारे क्षेत्रों मे इसका उपयोग किया जा रहा है जिसके कारण निम्नलिखित है:-

 

  • यह किसी भी कार्य को बिना किसी आलस्य और बिना समय बर्बाद किया और बिना किसी गलती के कर लेता है।

 

  • इसमे Fast Decision लेने की क्षमता होती है।

 

  • यह सभी कामों को Fast करता है जिससे कि हमारे समय की बचत होती है।

 

बाकी तो आप जानते ही है कि Machines का हमारी Daily Life मे कितना बाद योगदान है।

 

 

Techniques of Artificial Intelligence in Hindi

 

Artificial Intelligence की चार Techniques है जो कि निम्नलिखित है:-

 

  • Machine Learning
  • Natural Language Processing
  • Automation and Robotics
  • Machine Vision

 

 

Types of Artificial Intelligence in Hindi

 

Capabilities के आधार पर :-

 

1:- Weak AI या Narrow AI :- यह Artificial Intelligence का एक ऐसा प्रकार है जो सिर्फ दिए गए एक ही Task मे Perform करता है। वर्तमान मे Narrow Artificial Technique का ही इस्तेमाल किया जा रहा है। यह अपनी Limits और Field के परे काम नहीं कर सकता है इस प्रकार की Machine मे केवल एक ही Specific Task किया जा सकता है।

 

इसका सबसे अच्छा उदाहरण Apple का Siri है। इसके कुछ अन्य उदाहरण :- Self Driving Cars, Speech Recognition और Image Recognition है।

 

2:- General AI :- यह Artificial Intelligence का एक ऐसा प्रकार है जो Human Being की तरह ही किसी भी Intellectual Task को कर सकता है। इसको बनाने के पीछे यही उद्देश्य है कि एक ऐसी machine बनाना जो कि Human Beings की तरह ही काम कर सके। आजकल दुनियाभर मे सभी Scientists इसी Technology पर काम कर रहे है। फिलहाल ऐसी कोई मशीन नहीं बनाई गई है जो कि मनुष्य की तरह ही सभी काम कर सके।

 

3:- Super AI :- यह Artificial Intelligence की एक ऐसी विधा है जिसका उद्देश्य है कि एक ऐसी machine को Develop किया जा सके जो मानव से भी ज्यादा Efficiency से काम कर सके।

 

 

Functionality के आधार पर

 

1:- Reactive Machines:- यह Artificial Intelligence का Basic Concept है। इस प्रकार की Machine किसी भी Memory या Past Activities को Store नहीं करती है यह सिर्फ उस समय हो रहे Activities पर React करती है। IBM के द्वारा बनाया गया Deep Blue System इसका एक उदाहरण है।

 

2:- Limited Memory:- यह Artificial Intelligence का एक ऐसा प्रकार है जिसमे मशीन कुछ समय के लिए Memory को Store करके रखती है। इसका सबसे अच्छा उदाहरण Self Driving Cars है।

 

3:- Theory of Mind:- इस प्रकार की Artificial Intelligence Technology का उद्देश्य इस प्रकार की Machine बनाना है जो कि मानव के Emotions, Beliefs को समझ सके। इस प्रकार की Machine अब तक बनाई नहीं गई है लेकिन Researchers इस Technology पर काम कर रहे है।

 

4:- Self Confidence :- यह Artificial Intelligence के क्षेत्र मे Future Technology है। यह Machine Super Intelligent, Self Aware और Self Conscious होगी। ये Human Being की तुलना मे बहुत ज्यादा smart होगी।

 

 

Advantages and Disadvantages of आर्टफिशल Intelligence

 

       Advantages         Disadvantages
Error Reduction

 

High Cost
Difficult Exploration

 

Replicating Humans
Digital Assistant

 

No Improvement with Experience
Daily Application

 

No original Creativity
Available 24×7

 

Making Human Lazy
Faster Decision

 

Unemployment
New Inventions

 

No Emotions
  

 

Conclusion

आज के इस article के माध्यम से हमने आज के Artificial Intelligence के बारे मे विस्तार से जाना। आशा है कि यह article आपके लिए helpful रहा होगा। अगर आपको यह article पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर share कीजिए। आप हमे comment के माध्यम से सुझाव दे सकते है। आप हमे email के माध्यम से follow भी कर सकते है जिससे कि हमारी नई article की जानकारी आप तक सबसे पहले पहुचे आप email के माध्यम से हमसे question भी पूछ सकते है।