UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) क्या है? UPSC से संबंधित पूरी जानकारी जाने

Hello दोस्तों आज के (UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) क्या है? UPSC से संबंधित पूरी जानकारी जाने)आर्टिकल के माध्यम से हम UPSC Syllabus, UPSC Exam, UPSC Full Form, UPSC Online Registration, UPSC Pdf Syllabus, UPSC Notification, UPSC मे जितने Exam होते है और UPSC के बारे मे सभी महत्वपूर्ण जानकारी जानेंगे। यह जानकारी UPSC की तैयारी कर रहे aspirants के लिए बहुत ही उपयोगी है। साथ ही आपको UPSC से रिलेटेड PDF भी प्रदान की जाएगी।

 

UPSC क्या है?

संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission (UPSC) (यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन), भारत के संविधान द्वारा स्थापित एक संवैधानिक निकाय है जो भारत सरकार के लोकसेवा के पदाधिकारियों की नियुक्ति के लिए परीक्षाओं का संचालन करता है। संविधान के भाग-14 के अंतर्गत अनुच्छेद 315-323 में एक संघीय लोक सेवा आयोग और राज्यों के लिए राज्य लोक सेवा आयोग के गठन का प्रावधान है।

आजादी के बाद सन 1950 में  लोक सेवा आयोग (PSC) में कुछ बदलाव कर एवं इसके अधिकारों में विस्तार करके इसे संघ लोक सेवा आयोग  (UPSC) नाम दिया गया | इसका भी मुख्य कार्य प्रथम एवं द्वितीय श्रेणी के अधिकारीयों या सिविल सेवकों का चयन करना हैं | UPSC के माध्यम से ही देश में आईएएस/आईपीएस के आलावा अन्य कई ग्रेड A एवं ग्रेड B के अधिकारीयों की भर्ती की जाती हैं।

संघ लोक सेवा आयोग आयोग (UPSC) का मुख्यालय धौलपुर हाउस, नई दिल्ली में है और यह अपने स्वयं के सचिवालय के माध्यम से कार्य करता है। अरविंद सक्सेना जून 2018 से यूपीएससी के अध्यक्ष हैं

UPSC kya hai

 

UPSC का पूरा नाम क्या है? (Full Form of UPSC)

UPSC का पूरा नाम Union Public Service Commission (संघ लोक सेवा आयोग) है।

भारत के सुप्रीम कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के बारे मे पूरी जानकारी

 

संघ लोक सेवा आयोग का इतिहास (History of UPSC)

प्रथम लोक सेवा आयोग की स्थापना अक्तूबर 1926 को हुई। भारत के स्वतंत्र होने पर संवैधानिक प्रावधानों के तहत 26 अक्तूबर 1950 को संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की स्थापना हुई। इसे संवैधानिक दर्जा देने के साथ-साथ स्वायत्तता भी प्रदान की गयी ताकि यह बिना किसी दबाव के योग्य अधिकारियों की भर्ती क़र सके। इस नव स्थापित लोक सेवा आयोग को ‘संघ लोक सेवा आयोग’ नाम दिया गया।

 

UPSC के सदस्य को कौन नियुक्त करता है?

संघ लोक सेवा आयोग के सदस्य राष्ट्रपति द्वारा नियुक्त होते हैं। कम से कम आधे सदस्य किसी लोक सेवा के सदस्य (कार्यरत या अवकाशप्राप्त) होते हैं जो न्यूनतम 10 वर्षों के अनुभवप्राप्त हों। इनका कार्यकाल 6 वर्षों या 65 वर्ष की उम्र तक का होगा। ये कभी भी अपना इस्तीफ़ा राष्ट्रपति को दे सकते हैं। इससे पहले राष्ट्रपति इन्हें पद की अवमानना या अवैध कार्यों में लिप्त होने के लिए बर्ख़ास्त कर सकता है।

 

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) मे कौन कौन से पेपर और पोस्ट होते है?

  1. सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा (Civil Services Exams Prelims) (मई में)
  2. सिविल सेवा (प्रधान) परीक्षा (Civil Services Exams Mains) (अक्टूबर/नवम्बर में)
  3. भारतीय वन सेवा परीक्षा (जुलाई में)
  4. भारतीय इंजीनियरी सेवा परीक्षा (जुलाई में)
  5. भू-विज्ञानी परीक्षा (दिसम्बर में)
  6. स्पेशल क्लास रेलवे अप्रेंटिसेज़ परीक्षा (अगस्त में)
  7. राष्ट्रीय रक्षा अकादमी और नौसेना अकादमी परीक्षा (अप्रैल और सितम्बर में)
  8. सम्मिलित रक्षा सेवा परीक्षा (मई और अक्टूबर में)
  9. सम्मिलित चिकित्सा सेवा परीक्षा (फरवरी में)
  10. भारतीय अर्थ सेवा/भारतीय सांख्यिकी सेवा परीक्षा (सितम्बर में)
  11. अनुभाग अधिकारी/आशुलिपिक (ग्रेड ख/ग्रेड 1) सीमित विभागीय प्रतियोगिता परीक्षा (दिसम्बर में)

इसके अतिरिक्त राज्य लोक सेवा के अधिकारियों को संघ लोक सेवा से अधिकारी के रूप में भर्ती करना, भर्ती के नियम बनाना, विभागीय पदोन्नति समितियों का आयोजन करना, भारत के राष्ट्रपति द्वारा निर्दिष्ट कोई अन्य मामला सुलझाना इत्यादि इसके प्रमुख कार्य हैं। UPSC मे चयन के लिए आपको आप इनमे से जो परीक्षा देना चाहते है उसको पास करना पड़ेगा।

List of Indian Prime Ministers in Hindi – भारत के प्रधानमंत्री की पूरी जानकारी

 

UPSC All Exams List 2020

UPSC Calender 2020 Pdf Download

 

UPSC की परीक्षा कौन कौन दे सकता है?

  • भारतीय प्रशासनिक सेवा और भारतीय पुलिस सेवा के लिए, उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • अन्य सेवाओं के लिए, उम्मीदवार को निम्नलिखित में से एक होना चाहिए:
  • भारत का नागरिक।
  • नेपाल का नागरिक या भूटान का विषय
  • एक तिब्बती शरणार्थी जो 1 जनवरी 1962 से पहले भारत में स्थायी रूप से बस गया।
  • भारतीय मूल का एक व्यक्ति जो पाकिस्तान, म्यांमार, श्रीलंका, केन्या, युगांडा, तंजानिया, जांबिया, मलावी, ज़ैरे, इथियोपिया या वियतनाम से भारत में स्थायी रूप से बसने के इरादे से पलायन कर चुका है।
  • UPSC की परीक्षा देने के लिए विभिन्न परीक्षाओं के लिए अलग अलग समय सीमा और Qualification की आवश्यकता होती है। आप यहाँ पर जाकर सभी परीक्षाओं की जानकारी ले सकते है।

 

UPSC का सिलबस जाने हिन्दी मे (UPSC Syllabus)

UPSC Syllabus को जानने के लिए और UPSC Exam के बारे मे पूरी जानकारी के लिए आप इस Pdf को डाउनलोड कीजिए:-

UPSC full Information Pdf Download 

 

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के अब तक के सभी अध्यक्षों की सूची (List of Chairperson)

 

क्रमांकनामअवधि
1सर रॉस बार्कर1926-1932
2सर डेविड पेट्री1932-1936
3सर आइर गॉर्डन1937-1942
4सर एफ डब्ल्यू रॉबर्टसन1942-1947
5एच के कृपलानी1947-1949
6आर एन बनर्जी1949-1955
7एन गोविंदराजन1955-1955
8वी एस हेजमादी1955-1961
9बी एन झा1961-1967
10के आर. डमले1967-1971
11आर.सी.एस. सरकार1971-1973
12ए आर किडवाई1973-1979
13एम एल शाहर1979-1985
14एच के एल कैपूर1985-1990
15जे पी गुप्ता1990-1992
16आर एम बिथव (खारबुलि)1992-1996
17एस जे एस छत्तीवाल1996
18जे एम कुरेशी1996-1998
19लेफ्टिनेंट जनरल सुरिंदर नाथ1998-2002
20पी सी होटा2002-2003
21माता प्रसाद2003-2005
22एस आर हाशिम2005-2006
23डी पी अग्रवाल2008-2014
24रजनी रजदान2014
25दीपक गुप्ता2014-2016
26अल्का सिरोही2016-2017
27डेविड आर सिमेंलीह2017-2018
28विनय मित्तल2018
29अरविंद सक्सेना2018- अब तक

भारत के सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों की सूची, राजधानी, जनसंख्या, स्थापना…

 

आप UPSC की परीक्षाओं के लिए Online register करने और UPSC Notification 2020 के बारे मे अधिक जानकारी के लिए UPSC की आधिकारिक वेबसाईट पर जा सकते है:-

UPSC

 

आज के इस article के माध्यम से हमने आज के Daily current affairs के बारे मे विस्तार से जाना। आशा है कि UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) क्या है? UPSC से संबंधित पूरी जानकारी जाने का यह article आपके लिए helpful रहा होगा। अगर आपको यह article पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर share कीजिए।

आप हमे comment के माध्यम से सुझाव दे सकते है। आप हमे email के माध्यम से follow भी कर सकते है जिससे कि हमारी नई article की जानकारी आप तक सबसे पहले पहुचे आप email के माध्यम से हमसे question भी पूछ सकते है।