मल्टीमीडिया क्या है? – What is Multimedia in Hindi

What is Multimedia in Hindi – मल्टीमीडिया क्या है?

Multimedia एक प्रकार का माध्यम (medium) है जो सूचनाओं को एक जगह से दूसरी जगह तक पहुंचाने में मदद करता है। दुसरे शब्दो में कहे तो multimedia एक दुसरे से communication करने का साधन है। जो एक user की जानकारी दुसरे user तक टेक्स्ट , ग्राफ़िक्स , ऑडियो और वीडियो के form साझा करता है।

Multimedia दो शब्दो से मिलकर बना है। पहला multi और दूसरा media . जिसमे multi का अर्थ बहुत सारे प्रकार के और media का अर्थ “माध्यम” होता है। multimedia टेक्स्ट , वीडियो , ऑडियो और ग्राफ़िक्स का एक combination है जो एक user को दूसरे यूजर के साथ communicate करने में मदद करता है।

मल्टीमीडिया का इस्तेमाल डिजिटल information को साझा करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा multimedia का उपयोग डिजिटल information को प्रस्तुतिकरण (presentation) या फिर expressed करने के लिए किया जाता है। डिजिटल जानकारी को टेक्स्ट , वीडियो , ऑडियो , और ग्राफ़िक्स की मदद से present या दिखाया जा सकता है। इसके अलावा भी कई ऐसे तरीके है जिसकी मदद से डिजिटल information को प्रस्तुत किया जा सकता है जैसे animation , drawings etc .

multimedia की मदद से जानकारी प्राप्त करने के लिए user के पास कंप्यूटर या कोई डिजिटल device होना चाहिए। क्योकि बिना कंप्यूटर या डिजिटल device के कोई भी user ना ही communication कर पायेगा और ना ही जानकारी प्राप्त कर पायेगा।

Categories of Multimedia in Hindi

1.Linear Multimedia

Linear मल्टीमीडिया को Non-interactive मल्टीमीडिया भी कहा जाता है। जिसका मुख्य उदेस्य जानकारी को sequence में present करना होता है। यह एक तरह का logical flow है। जो एक point से conclusion तक जाता है। यानी information को शुरू से लेकर अंत तक दिखाया जाता है। linear मल्टीमीडिया audience के साथ interact नहीं करता है।

2.Non-Linear Multimedia

Non-linear मल्टीमीडिया जानकारी को sequence में present नहीं करता। linear मल्टीमीडिया की तुलना में non linear मल्टीमीडिया interactive होते है। जो user की requirement के अनुसार काम करना पसंद करते है। none linear मल्टीमीडिया के कुछ उदहारण #Gaming, #WebSites, #Hypermedia etc

Types of Multimedia in Hindi – मल्टीमीडिया के प्रकार

types of multimedia in Hindi

1.Text

multimedia की रगीन दुनिया में text बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय साधन है information को साझा करने के लिए। क्योकि पुराने समय से लेकर आज तक text के माध्यम से ही ज्यादातर information को साझा किया जाता है।

text एक लिखित जानकारी होती है। जिसकी मदद से लोग पढ़कर उस जानकारी को प्राप्त करते है। multimedia में लिखित जानकारी को बढ़ावा देने के लिए text में photos और graphics को जोड़ा जाता है। ताकि user और भी ज्यादा अच्छे तरीके से text को पढ़ सके। इसके अलावा text को और भी ज्यादा attractive बनाने के लिए multimedia में अलग अलग font का use किया जाता है। ताकि user को text read करने में अच्छा लगे।

2.Graphics

ग्राफ़िक्स एक non text फॉर्मेट है। जिसमे text का use नहीं किया जाता। डिजिटल जानकारी को फोटो या चित्र के माध्यम से साझा करने के लिए graphics का use किया जाता है। अगर किसी user को ज्यादा मात्रा में text पढ़ने की आदत नहीं होती। उस स्थिति में वह user ग्राफ़िक्स की मदद से digital information को प्राप्त कर सकता है।

इसके अलावा ग्राफ़िक्स का इस्तेमाल concept को अच्छे तरीके से clearify करने के लिए किया जाता है। कहने का मतलब है की वह concept जो आसानी से user को समझ में नहीं आते। उन concept को आसानी से समझाने के लिए graphics को उपयोग में लाया जाता है। graphics को बनाने के लिए software की ज़रूरत पड़ती है। और सबसे बेहतर सॉफ्टवेयर adobe photoshope है। ज्यादातर graphic डिज़ाइनर इसी सॉफ्टवेयर की मदद से ग्राफ़िक्स का निर्माण करते है।

3.Animation

animation एक तरह से ग्राफ़िक्स picture की movement होती है। जो वीडियो की form में दिखाई देती है। लेकिन हम animation को वीडियो नहीं कह सकते। क्योकि वीडियो के अंदर सभी parts movement कर सकते है। लेकिन animation में केवल इमेज या ग्राफ़िक्स ही movement कर सकते है।

ग्राफ़िक्स sequence में move करते है। जिसे slideshow भी कहते है। multimedia में animation काफी ज्यादा लोकप्रिय है। क्योकि animation के जरिए user आसानी से डिजिटल information को प्राप्त कर लेता है और आसानी से चीज़ो को समझ जाता है।

4.Video

video एक तरह से ऑडियो फाइल और इमेज का combination है। video फाइल images और ऑडियो के साथ pair बनाकर चलती है। यानी audio के मुताबिक इमेज movement करती है। वीडियो sequence में move नहीं करती।

multimedia में वीडियो सबसे ज्यादा लोकप्रिय माना जाता है। क्योकि वीडियो में ध्वनि होने के कारण user जानकारी को अच्छे से प्राप्त और साझा कर पाता है। दूसरा इमेज ऑडियो फाइल के मुताबिक movement करती है। जिसके कारण user को वीडियो के format में जानकारी प्राप्त करना और साझा करना काफी ज्यादा अच्छा लगता है।

video का सबसे अच्छा उदहारण T.V है। वीडियो file को चलाने के लिए बहुत सारे program का use किया जाता है। जैसे रियल प्लेयर, विंडो मीडिया प्लेयर,etc .

5.Audio

ध्वनि multimedia का सबसे ज्यादा गभीर हिस्सा है। क्योकि ऑडियो के बिना वीडियो को देखने लायक नहीं बनाया जा सकता। क्योकि audio के बिना  कोई भी user वीडियो को देखना पसंद नहीं करेगा।और ना ही वीडियो के जरिये जानकारी प्राप्त करेगा।

इसलिए ऑडियो multimedia का सबसे अहम हिस्सां माना जाता है। ऑडियो फाइल का इस्तेमाल बात चीत को बढ़ाने के लिए किया जाता है। हमारे पास ऑडियो फाइल के बहुत सारे format उपलब्ध है। जैसे MP3, WMA, Wave, MIDI और RealAudio etc .

इसे पढ़ें:-

Application of Multimedia in Hindi

1.Education

शिक्षा के छेत्र में multimedia काफी तेजी के साथ लोकप्रिय हो रहा है। क्योकि दिन प्रति दिन multimedia शिक्षा को आसान बना रहा है। शिक्षा के छेत्र में multimedia का उपयोग  वीडियो , टेक्स्ट , ग्राफ़िक्स और animation के form में पुस्तक या material बनाने के लिए किया जाता है। यह material पूरी तरह से डिजिटल होता है। जिसकी मदद से छात्रों को सभी format में जानकारी प्राप्त हो जाती है।multimedia की मदद से छात्र घर बैठे ही शिक्षा को ग्रहण कर सकते है। इसके अलावा जानकारी को आपस में साझा कर सकते है।

2.Communication

मल्टीमीडिया ने संचार (communication) करने के तरीके को और भी ज्यादा आसान बना दिया है। क्योकि आज के समय में कोई भी व्यक्ति दुनिया के किसी भी कोने से एक दुसरे के साथ बात कर सकता है आपस में connect हो सकता है। इसके अलावा एक दुसरे के साथ जानकारी साझा कर सकता है। कहने का मतलब  है की multimedia ने communication को बहुत ही ज्यादा आसान बना दिया है।

3.Medical

multimedia का इस्तेमाल medical फील्ड में भी किया जाता है। multimedia का use डॉक्टर के द्वारा surgery को वीडियो में माध्यम से समझने के लिए किया जाता है। इसके अलावा multimedia का इस्तेमाल simulation टेक्नोलॉजी में भी किया जाता है। simulation टेक्नोलॉजी वह टेक्नोलॉजी है जिसमे patient की बीमारी को आसानी से पहचाना जा सकता है। और उसके बाद उस patient का इलाज बीमारी के अनुसार किया जाता है। जिससे patient की जान आसानी से बचाई जा सकती है।

4.Entertainment

multimedia का सबसे ज्यादा उपयोग मनोरंजन के लिए ही किया जाता है। मूवी , वीडियो , animated कार्टून को multimedia की मदद से ही बनाया जाता है। इसके अलावा multimedia का इस्तेमाल gaming के लिए भी किया जाता है। गेम के picture को डिज़ाइन करने के लिए भी multimedia को उपयोग में लाया जाता है।

5.Marketing

multimedia का इस्तेमाल मार्केटिंग करने के लिए भी किया जाता है। बिज़नेस के advertisement के लिए भी multimedia को उपयोग में लाया जाता है। क्योकि add बनाने के लिए टेक्स्ट , ग्राफ़िक्स , ऑडियो और वीडियो की ज़रूरत पड़ती है। ताकि add अच्छे से तैयार किया जा सके। एक कंपनी के प्रचार के लिए multimedia बहुत बड़ी भूमिका निभाता है।

6.Social Media

multimedia का इस्तेमाल सोशल मीडिया के लिए भी किया जाता है। क्योकि सोशल मीडिया में अच्छे post बनाने के लिए multimedia के टूल्स की ज़रूरत पड़ती है। जैसे टेक्स्ट , ग्राफ़िक्स , वीडियो और ऑडियो। यह सभी multimedia के टूल्स है जो एक बेहतर पोस्ट बनाने में user की मदद करती है।

7.Interior Designing

multimedia का इस्तेमाल घर के नक़्शे को डिज़ाइन करने के लिए भी किया जाता है। आज के समय में बहुत से ऐसे software मौजूद है। जिनकी मदद से घर के नक़्शे को आसानी से बनाया जा सकता है। जैसे SketchUp, AutoCAD दो ऐसे सॉफ्टवेयर है जिनकी मदद से घर के नक़्शे को डिज़ाइन किया जा सकता है।

Advantage of Multimedia in Hindi

1.मल्टीमीडिया learning की छमता को बढ़ाता है।

2.मल्टीमीडिया को use करना काफी ज्यादा आसान होता है।

3.multimedia में जानकारी को साझा करना काफी ज्यादा आसान होता है।

4.multimedia के अंदर जानकारी को प्राप्त करने के लिए बहुत सारे format उपलब्ध है।

5.मल्टीमीडिया high quality प्रेजेंटेशन तैयार करता है। ताकि user को आसानी से concept समझ में आ जाये।

6.multimedia को एक समय पर बहुत सारे लोगो को जानकारी देने के लिए use किया जा सकता है।

7.multimedia ट्रेनिंग cost को घटाता है। क्योकि मल्टीमीडिया की मदद से user घर बैठे ही वीडियो conferencing के जरिये ट्रेनिंग ले सकता है।

Disadvantage of Multimedia in Hindi

1.multimedia को operate करने के लिए स्पेशल हार्डवेयर की ज़रूरत पड़ती है।

2.multimedia में information ओवरलोड होने का खतरा बना रहता है।

3.multimedia expensive हो सकता है। क्योकि multimedia में ज्यादा resources का इस्तेमाल किया जाता है। जिसके कारण multimedia की cost थोड़ी ज्यादा हो सकती है।

4.multimedia की फाइल्स को load होने में ज्यादा समय का वक़्त लगता है। क्योकि वीडियो और ऑडियो वाली फाइल्स का size काफी ज्यादा बड़ा होता है।

Leave a Comment