What is C Programming Language in Hindi – सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की पूरी…

Hello दोस्तों क्या आप software engineer बनना चाहते है? या आपको programming language या coding सीखने मे रूचि है? अगर आप software engineer बनना चाहते है तो इसके लिए आपको programming language सिखनी पड़ेगी जिसे हम अक्सर coding भी कहते है।

वैसे तो programming language अनेक type की होती है जैसे java, c++, . net, PHP, लेकिन(But) आपको अगर ये सब programming language सीखनी है तो आपको C language को सीखना पड़ेगा। क्योंकि(Because) ये सब language, C language पर आधारित है।

आप अगर C language के बारे मे अच्छी तरह से जान लेते है तो बेशक आप इन languages को आसानी से समझ पाएंगे।आज के इस article के माध्यम से हम जानंगे की C language क्या होती है?

 

What is C Programming Language in Hindi (C programing language क्या है?)

C programing language एक computer programming language है, इसे हम coding भी कहते है। computer इसी language की मदद से समझता है कि उसे क्या command दी जा रही है। इसी language की मदद operating system, application और software बना सकते है।

windows, linux और unix जैसे operating systems को भी इसी C programing language की मदद से बनाया गया था। दूसरे शब्दों मे कहे तो C programing language एक high level structured programing language है।

 

History of C programing language in hindi

C programing language को सन 1972 मे Dennis M. Ritchie के द्वारा develop लिया गया था। इस language को दूसरी programing languages BCPL, BASIC और B की खामियों को पूरा करने एक लिए किया गया था। Dennis Ritchie के द्वारा इस programing language को bell labs मे develop किया गया था।

सन 1960 मे Cambridge University के द्वारा एक programming language को बनाया था जिसको B programing language (basic combined programing language) का नाम दिया गया। लेकिन(But) इस programing language बहुत कमियाँ थी।

B programing language एक open source programing language थी जिसमे Dennis Ritchie द्वारा बहुत सुधार करने के बाद C programing language को develop किया गया।

 

इस programing language को system application create करने के लिए बनाया गया था जो कि direct hardware devices जैसे kernels, drivers के साथ आसानी से interact कर सके।

इस programing language को सभी programing language का आधार माना जाता है क्योंकि बाकी सभी programing language जैसे C++, java जैसी languages को इसी language से develop किया गया है। इसलिए(So) अगर आप C programing language को सीख लेते है तो आपको other languages सीखने मे को परेशानी नहीं आएगी।

 

सन 1978 मे Dennis Ritchie और Brian Kernighan ने C programing language पर एक बुक “ The C Programing Language” लिखी यह book बहुत popular बनी।

Also Read:- What is Bridge in Computer Networking in Hindi – नेटवर्क ब्रिज क्या होता है?..

 

Features of C Programing Language in hindi

  • यह एक procedural language होती है।

 

Procedural language क्या होती है?

यह एक प्रकार की computer language होती है जो कि program को लिखने के लिए well structured steps की series को specify करती है। procedural language का मतलब है कि यह computer मे किसी भी प्रकार के program को अच्छी तरह से well structured लिखने का feature होता है।

  • इसे आसानी से समझा जा सकता है।

C programing language को आसानी से समझा जा सकता है क्योंकि(Because) इसके syntax बहुत ही easy और clear होते है।

 

  • C programing बहुत fast होती है।

यह programing language अन्य language जैसे python, java की तुलना मे fast होती है। इन languages मे C programing language की तुलना मे ज्यादा features होते है जिस कारण इनमे additional processing ज्यादा होती है।

 

  • C programing language का Use करके अब तक बहुत सारी programing languages बनाई जा चुकी है।

 

  • यह portable language है।

Portable language का मतलब है की इस language मे लिखे गए code को बिना किसी बदलाव के हम किसी दूसरे operating system मे भी run करा सकते है।

 

  • यह सबसे ज्यादा use होने वाली programing लैंग्वेज है।

 

  • सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की मदद से system software और application software दोनों तरह के software को बनाया जा सकता है।

 

  • इसको assembly language मे लिखा गया है।

 

  • इसमे pointers की सुविधा होती है जिससे कि हम pointers का use करके इसे सीधे memory के साथ interact कर सकते है।

Also Read:- What is Array and its types in Hindi – ऐरे क्या होता है और….

 

C programing language को कैसे सीखें?

अब यह सब बातें तो C programing language के बारे मे हो गई अब अगर यह language इतनी महत्वपूर्ण है तो इस language को कैसे और कहाँ से सीखे?

अगर आप C programing language को सीखना चाहते है तो  आप इसे घर बैठे सीख सकते है या आप tutorials भी join कर सकते है आप अगर online इस language को सीखना चाहते है तो आप you tube, website के माध्यम से सीख सकते है। आप किसी institution के माध्यम से भी C programing language को भी सीख सकते है।

अगर आप इस language को सीखना चाहते तो इसके लिए आपको patient की जरूरत है। इसे सीखने के लिए आपको कुछ महीनों का समय लगेगा। हम आज यहाँ पर C programing को सीखने के steps के बारे मे जानेंगे:-

 

  • सबसे पहले C language के program बनाने के लिए आपको Turbo C++ नाम के software को download करना पड़ेगा।
  • अब आपको C program के basics के बारे मैं जानकारी होनी चाहिए। इसके लिए आप HELLO WORLD program को देख सकते है क्योंकि आप इसे आसानी से सीख और समझ सकते है।
  • अब आप data types और variable के concept को समझना जरूरी है।
  • C programing language के कुछ functions और keywords होते है। अगर आपको इस language को सीखना है तो आपको इन functions और keywords की जानकारी होनी चाहिए।
  • अब आप एक छोटा सा खुद का program बना सकते है। आप चाहे तो HELLO WORLD program को बना सकते है क्योंकि यह आसान program होता है।

 

आप C program language की बुक भी पढ़ सकते है जिससे आपको थोड़ी और मदद मिलेगी और आपके concept clear होंगे।

 

C programing language का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?

वैसे तो बहुत सारी ऐसी programing languages है जिनका उसे किया जाता है लेकिन C programing language है जो इतनी पुरानी language होने के बावजूद आज भी इतनी popular programing language है। इसके ऐसे बहुत कारण है जिनके कारण आज भी इसे use किया जाता है:-

 

  • इसकी मदद से ही शुरुआत मे operating system का development किया गया था आज भी इन कामों के लिए इसका use किया जाता है।
  • इसके source code को एक operating system से दूसरे operating system मे run या compile किया जा सकता है।
  • यह सभी language सीखने के लिए आधार है अगर आप C programing language को सीख लेते है तो आपको दूसरी language जैसे C++, java को सीखने मे कोई परेशानी नहीं होगी। आप उन्हे easily सीख और समझ सकते है।

 

C programing language का इस्तेमाल कहाँ कहाँ होता है?
  • इसका इस्तेमाल operating system बनाने के लिए किया जाता है।
  • दुनिया के सभी बड़े बड़े DBMS software को C programing language मे ही code किया गया है।
  • C programing language को compiler के निर्माण मे भी use किया जाता है।
  • इसकी मदद से application software बनाए जाते है।

 

आज के इस article के माध्यम से हमने C Programming Language के बारे मे विस्तार से जाना। आशा है कि What is C Programming Language in Hindi – सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की पूरी जानकारी का यह article आपके लिए helpful रहा होगा। अगर आपको यह article पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर share कीजिए।

आप हमे comment के माध्यम से सुझाव दे सकते है। आप हमे email के माध्यम से follow भी कर सकते है जिससे कि हमारी नई article की जानकारी आप तक सबसे पहले पहुचे आप email के माध्यम से हमसे question भी पूछ सकते है।

 

2 thoughts on “What is C Programming Language in Hindi – सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की पूरी…”

Leave a Comment